Kridavedhnews

Breaking News
राष्ट्रीय केमिकल अँड फर्टिलायझर्स लिमिटेड मध्ये ज्येष्ठ कामगार नेते कैलासवासी भाई मनोहर जी कोतवाल साहेब यांची 107 वी जयंती साजरीराज्यस्तरीय रग्बी स्पर्धेत उस्मानाबादच्या संघाला सुवर्णपदक:पिंपरी चिंचवड:-टीबी हरेगा देश जीतेगा राष्ट्रीय क्षयरोग दुरीकरण कार्यक्रमऑटिस्टिक व डाऊन सिन्ड्रोम जलतरणपटूनची राष्ट्रीय स्तरावरील प्रेरणादायी कामगिरीहोमहवन व पूर्णाहुतीने संगीतमय श्रीमद भागवत कथा ज्ञानयज्ञ सप्ताहाची सांगता..कुस्ती स्पर्धेमध्ये 80 kg वजनी गटात कु.पै. आयुष महेश ढमाले प्रथमपिंपळे गुरव येथे जैन चातुर्मास पर्व २०२२ निमित्त श्री महर्षि आनंद युवा मंचातर्फे घेण्यात आलेल्या महारक्तदान शिबीर आणि मोफत महाआरोग्य तपासणी शिबीरास नागरिकांचा उत्स्फुर्त प्रतिसादपहिली राष्ट्रीय योंगमूडो चॅम्पियनशिपकु. सोनिया सुर्यवंशी हिस बेस्ट बॉक्सर पुरस्कार..ज्युनिअर मुलांच्या महाराष्ट्र राज्य बॉक्सिंग अजिंक्यपद स्पर्धा

यूक्रेन और भारत के बीच उड़ान भरने वाले विमानों की संख्या पर लगा प्रतिबंध हटा |


डिजिटल डेस्क, नयी दिल्ली। यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों तथा पेशेवरों को स्वदेश वापस लाने की मुहिम के तहत गुरुवार को नागर विमानन मंत्रालय ने यूक्रेन और भारत के बीच विमानों और सीटों की संख्या सीमित रहने का प्रतिबंध हटा दिया।

कोरोना महामारी के कारण भारत ने कई देशों के साथ एयर बबल समझौता किया था। इस समझौते के तहत दोनों देशों के बीच सीमित संख्या में विमान उड़ान भर सकते हैं। इन विमानों की सीट की संख्या भी सीमित ही रहती है। यूक्रेन के साथ भी भारत ने यह समझौता किया है लेकिन रूस और यूक्रेन के बीच जारी तनातनी को देखते हुए यह प्रतिबंध हटा लिया गया है। अब दोनों देशों के बीच विमानों के अलावा चार्टर्ड विमान भी उड़ान भर सकते हैं।

मंत्रालय ने वक्तव्य जारी करके कहा है, मंत्रालय ने एयर बबल समझौते में भारत और यूक्रेन के बीच विमानों और सीटों की संख्या पर लगाया गया प्रतिबंध हटा लिया है।

मंत्रालय ने बताया कि भारतीय विमानन कंपनियों को जानकारी दे दी गयी है कि वे बढ़ती मांग को देखते हुए विमानों की संख्या बढ़ायें।

केंद्र सरकार ने यूक्रेन संकट को देखते हुए वहां रहने वाले भारतीयों को स्वदेश वापस लौटने का परामर्श जारी किया था। इसके बाद यूक्रेन में रह रहे भारतीय छात्रों ने विमान टिकट की आसमान छूती कीमत और विमानों की सीमित संख्या के बारे में कहा था। रिपोर्ट के मुताबिक 20 फरवरी से पहले यूक्रेन से कोई भी विमान भारत के लिए उड़ान भरने वाला नहीं था।

(आईएएनएस)

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

radio